Hindi SMS Shayari

Hindi SMS Shayari

बचपन के दुःख भी कितने आच्छे थे,
तब तो सिर्फ खिलौने टुटा करते थे.
वो खुशियाँ भी न जाने कैसे खुशियाँ थी,
तितली को पकड़ के उछला करते थे.
पांव मार के खुद बारिश के पानी मे,
अपना आप भिगोया करते थे.
अब तो एक आंसू भी रुसवा कर जाता है,
बचपन में तो दिल खोल के रोया करते थे.
Bachpan ke dukh bi kitne ache the,
tab to sirf khilone tuta karte the.
Wo khushiyan bi na jane kaise khushiyan thi,
titli ko pakad ke uchhla karte the.
Paoon maar ke khud barish ke pani mae,
apna aap bhigoya karte the.
Ab to ek aansu bi rusva kar jata hai,
bachpan mein to dil khol ke roya karte the.
शाम ने लिपट कर प्यार का इजहार किया,
चांदनी ने बिखरकर यार का सत्कार किया.
में खडा बस देखता रहा रूप की जलती अगन,
दिल लगी ने दिलकशी से वक्त को गुलजार किया
Sham ne lipat kar pyar ka ijhar kiya,
Chandani ne bikharkar Yaar ka satkar kiya.
Main khada bas dekhta raha Roop ki jalti agan,
Dil lagi ne Dilkashi se waqt ko guljar kiya.
जिंदगी की किताब के कुछ पन्ने होते है,
कुछ अपने, कुछ बेगाने होते हैं.
प्यार से संवर जाती है जिंदगी,
बस प्यार से रिश्ते निभाने होते है.
Zindgi ki kitab k kuch panne hote hai,
Kuch apne,Kuch begane hote hain.
Pyar se savwar jati hai zindgi,
Bas Pyar se rishte nibhane hote hai.
तुम से खफा होकर हम जायेंगे कहाँ,
तुम सा साथी हम पाएंगे कहाँ.
दिल को तो कैसे भी समझा लेंगे लेकिन ,
आँखों से आप की तस्वीर छुपायेगे कहाँ
Tum se khafa hokar hum jayenge kahan,
Tum sa saathi hum payenge kahan.
Dil ko to kaise bhi samjha lenge lekin ,
ANKHON se aap ki tasvir chupayege kahan
समय की धारा के साथ हम चलते हैं,
इसी अदा पे तो लोग हम पे मरते हैं.
SMS की दुनिया के हम बादशाह हैं,
इसलिए आप हमको SMS करने से डरते हैं.
Samay Ki Dhara K Sath HUM Chalte Hain,
Isi Ada Pe To Log HUM Pe Marte hain.
sms Ki Duniya K HUM BAADSHAH Hain,
Isliye AAP Humko sms Karne Se Darte Hain.

Post a Comment

0 Comments